fbpx
Thank you!

Thank you!

Thank you for visiting ThinkOneWeek! We hope that it has helped you thinking about the meaning and purpose of your life and future.

Please take some more time to think about it. Spend some time to think about your life, your goals and your destiny. I am sure that it will help you in life.

Please consider the offer of salvation that has been made to by Jesus Christ.

I would like to challenge you to speak out your questions to God personally and ask Him to show you the truth.
Do this every day, it will take you maybe 1 minute.
You might be surprised what will happen in your life!

We hope that in future you will learn that God is loving you. He is waiting for you to accept His offer.

Feel free to return to this website if you would like to get some more information.

You can have look at our topics at the bottom of this page to learn more and to get in touch with other people.

Have a wonderful life!

P.s. If you want a prayer for yourself, fill out the form below. You can send this anonymously if you like.


कलिसियायें

कलिसियायें

जब आप मसीही बना जाते है तो आवश्यक है की आप स्थानीय चर्च / कलीसिया में जाए. अगर आस पास...
बप्तिस्मा

बप्तिस्मा

बप्तिस्मा एक बाहरी संकेत है जिस के द्वारा आप लोगों को बताते है की आप मसीही है. बप्तिस्मा का प्रक्रिया...
प्रार्थना

प्रार्थना

प्रार्थना परमेश्वर के साथ और परमेश्वर से वार्तालाप है. जबकि परमेश्वर को सीधी तरह से आप सुन नहीं सकते पर...
पवित्र आत्मा

पवित्र आत्मा

बाइबल सिखाती है की परमेश्वर 3 व्यक्तियों में अपने आप का परिचय देता है. इसे त्रियेक्ता कहते है. हम इंसानों...
येशु परमेश्वर का पुत्र

येशु परमेश्वर का पुत्र

यीशु को परमेश्वर का पुत्र क्यों कहते है? यीशु ने स्वयं कहा कि वह परमेश्वर का पुत्र है :फिर उन...
येशु का जीवन

येशु का जीवन

यीशु का जन्म इस्रायेल में २००० साल पहले हुआ |इसके बारे में आप लुका की किताब में पढ़ सकते है...
बाइबल के कुछ उपयोगी पद

बाइबल के कुछ उपयोगी पद

परमेश्वर का प्रेम यूहन्ना 3:16 16 परमेश्वर को जगत से इतना प्रेम था कि उसने अपने एकमात्र पुत्र को दे...
बाइबल, परमेश्वर का पुस्तक

बाइबल, परमेश्वर का पुस्तक

बाइबल एक साधरण किताब नहीं है |वास्तव में वह एक किताब नहीं है पर ६६ किताबो का किताबघर है |उसमे...